Pages

Subscribe:

Monday, January 18, 2010

ऑस्ट्रेलिया में पिछले दो महीनो से जारी भारतीय छात्रों पर हमला थमने का नाम नहीं ले रहा है |अब तो हालात यहाँ तक पहुँच गए हैं की छात्र वापस आने को मजबूर हैं |सबसे अहम् सवाल यह है की आखिर इसके लिए ज़िम्मेदार कौन है ?वहां की सरकार ,हमलावर ,वहां के लोग या खुद भारतीय छात्र ?पढने गए छात्र वापस लौट रहे हैं लेकिन उनके चेहरे पर शिकन नहीं है|कोई इसे नस्लवाद बता रहा है तो कोई सरकार को दोष दे रहा है |कुछ लोगों की नज़र में भारत सरकार दोषी है |सरकार पर ये आरोप भी लगाये जा रहे हैं की वह छात्रों की रक्षा के लिए कुछ भी नहीं कर रही है |मेरा मानना है कि भारतीय छात्रों पर हमले के लिए भारत कि सरकार भी दोषी है|तब ये सवाल उठता है कि क्या भारत हमले रोक पाने में सक्षम है ?जवाब है -नहीं |यह सच है कि किसी भी सरकार कि ये जिम्मेदारी होतो है कि वह अपने देश के नागरिकों को सुरक्षा उपलब्ध कराये लेकिन भारत ऐसा नहीं कर पा रहा है |तो क्या हम यूँ ही अपने होनहारों को खोते रहेंगे ?

0 comments:

Post a Comment